अबू ख़दीजह

हिंदी लेख

Posted on: 14 April 2020, Truth Arrived Hindi

इस्लाम और मुसलमानों पर मीडिया के हमले के बारे में हम सभी दशकों से जानते हैं। असलान मीडिया के प्रधान संपादक, और जॉर्जटाउन विश्वविद्यालय के एक शोधकर्ता, नाथन लीन के अनुसार, "मीडिया दुनिया में इस्लामोफोबिया को बढ़ावा देने में एक मजबूत भूमिका निभाता है।" यह 9/11 के बाद बढ़ गया, 2014 में भारत में अपने चरम पर पहुंच गया, और कोरोना आपदा के बाद अपने सीमा से बोहोत ही आगे बढ़ गया। भारतीय मीडिया द्वारा किए गए उपदेश के लिए धन्यवाद, जो इतना प्रभावित हुआ कि एक गैर-धार्मिक महामारी कोरोना ने "इस्लाम" स्वीकार कर लिया और मुस्लिम बन गया। अब COVID-19 भारत में "(अ)शासनिक" रूप से मुस्लिम बन गया। प्रभाव इतना अधिक था कि अधिकांश आम लोग भारत में मुसलमानों से नफरत करने लगे। मीडिया की गलत सूचना के कारण COVID-19 के उद्भव के बाद कई मुस्लिम उत्पीड़न के मामले सामने आए।

इफ्तिखार इस्लाम के हिन्दी ट्वीट्स

Hindi Videos

© 2020 Iftikhar Islam Office
Website Design, Develop & Maintained by: Top Easy Web